December 13, 2018

पुदीना के औषधीय गुण और फ़ायदे, Benefits of mint in Hindi

पुदीना के औषधीय गुण और फ़ायदे for gharelu paramarsh

पुदीना के औषधीय गुण और फ़ायदे, Benefits of mint in Hindi

पुदीना के औषधीय गुण और फ़ायदे:-आमतौर पर घरों में पुदीना की चटनी बनाई जाती है या फिर यह जलजीरा बनाने में इस्तेमाल होता है | किंतु पुदीना केवल अपने भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए ही नहीं है, पुदीना अपने अनेक गुणों से भी जाना जाता है |  पुदीना का उपयोग कई तरह की बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है | पुदीना का प्रयोग बहुत सारी एंटीबायोटिक दवाओं को बनाने के काम में भी किया जाता है |

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको बताएंगे कि पुदीने में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं और इससे  कई प्रकार की शरीर से जुड़ी समस्याओं का इलाज होता है |

साधारण से दिखाई देने वाला पुदीना कई तरह के गुणों की खान है यह अपने आप में बहुत ही शक्तिशाली और चमत्कारी प्रभाव रखता है | गर्मियों में पुदीने की चटनी खाना सेहत के लिए बहुत अधिक लाभकारी होता है | पुदीना औषधीय गुणों के साथ-साथ आपके चेहरे के सौंदर्य को निखारने के लिए भी बहुत लाभदायक है |

पुदीना के औषधीय गुण और फ़ायदे:

पुदीना एक बहुत ही अच्छी एंटीबायोटिक दवा है पुदीने में फाइबर मौजूद रहते हैं और इसमें मौजूद फाइबर आपके कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में मदद करता है और इसमें मौजूद मैग्नीशियम आपकी हड्डियों को ताकत देता है और इन्हें मजबूत बनाता है |

बुजुर्ग व्यक्ति को उल्टी होने पर दो चम्मच  पुदीने कर रस हर 2 घंटे में पिलाना चाहिए इससे जी मचलना या उल्टी जैसी बीमारी में बहुत तेजी से आराम मिलता है | यदि आपको पेट से संबंधित या कोई अन्य बीमारी है तो पुदीने की पत्तियों को ताजे नींबू के रस और इसी के बराबर मात्रा में शहद को मिलाकर लेने से पेट की लगभग सभी बीमारियों में जल्दी आराम मिल जाता है |

सर्दी जुकाम में पुदीने के फायदे-

सर्दी जुकाम होने पर आप थोड़ा पुदीने का रस लें और इसमें थोड़ा सा काला नमक और काली मिर्च मिला लें | और चाय की तरह उबालें | और चाय की तरह  ही पीने से सर्दी जुकाम और खांसी और बुखार में बहुत जल्द राहत मिल जाती है |

ज्यादा हिचकी आने पर ताजा पुदीने की कुछ पत्तियां चबाने से हिचकी आने की समस्या में आराम मिलता है |

मासिक धर्म सही से और समय पर ना आने पर आप पुदीने की सूखी पत्तियों को का चूर्ण बना लें और इस चूर्ण को दिन में दो बार शहद के साथ मिलाकर नियमित रूप से कुछ दिन देने से महावारी सही हो जाती है और समय पर आना शुरू हो जाती है |

पुदीना का औषधीय उपयोग-

यदि किसी व्यक्ति को चोट लग जाए या फिर खरोच आ जाए तो उस स्थान पर ताजे पुदीना की पत्तियों को पीसकर लगाने से घाव बहुत जल्दी भर जाता है |

आपको यह किसी और को भी दाद, खाज, खुजली है या किसी अन्य प्रकार का कोई और चर्म रोग है तो आप ताजे पुदीने की पत्तियों को लेकर अच्छी तरह से पीस लें और इस लेप को शरीर की प्रभावित त्वचा में लगाएं | इससे बहुत जल्दी आराम मिलता है |

मुंह की बदबू में पुदीने के फायदे-

यदि आपके मुंह से बदबू आती है और आप इस से छुटकारे के लिए कई प्रकार के प्रयोग करने के बावजूद भी आपको फायदा नहीं हुआ है तो आप एक बार पुदीने का प्रयोग करके जरूर देखें इसके लिए आप बाजार से पुदीने की पत्तियां ले आएं और इसको अच्छी तरह से छांव में सुखा लें | और जब पत्तियां सूख जाए तो इन पत्तियों का चूर्ण बना लें और  प्रतिदिन इसे मंजन की तरह इस्तेमाल करें | ऐसा करने से आपके मसूड़े तो स्वस्थ होंगे ही आपके मुंह से दुर्गंध आना भी पूरी तरह से बंद हो जाएगी | इस प्रयोग को आप कम से कम 1 महीने तक जरूर करें |

गले के रोगों में पुदीने के फायदे-

गले के रोगों में नमक के पानी के साथ पुदीने के रस को मिलाकर कुल्ला करने से  काफी फायदा मिलता है | इससे आप की आवाज भी साफ होती है और गले की खराश भी दूर हो जाती है | यदि गले में भारीपन या गला बैठने की शिकायत हो तो वह पुदीने के प्रयोग से दूर हो जाती है |

तेज गर्मी में पुदीने के फायदे-

गर्मी के कारण जी मचलने या घबराहट होने पर एक चम्मच सूखे पुदीना की पत्तियों और आधा छोटा चम्मच इलायची का चूर्ण एक गिलास पानी में उबाल लें और ठंडा होने के बाद पिए | इससे आपको बहुत जल्दी आराम

मिलेगा और साथ ही साथ यदि हैजा होने की शिकायत होती है तो पुदीना के साथ प्याज का रस और नींबू का रस समान मात्रा में मिलाकर पीने से बहुत जल्दी आराम मिल जाता है |

चेहरे का सौंदर्य बढ़ाने के लिए पुदीने के फायदे-

पुदीने से बना हुआ फेशियल चेहरे का सौंदर्य बढ़ाने के लिए काफी अच्छा होता है | इसके लिए आप दो चम्मच पिसी हुई पुदीने की पत्तियां 1 बड़ा चम्मच ओटमील और दो चम्मच दही को अच्छे से मिलाकर पेस्ट बना लें | अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगा लें और 15 मिनट तक इसे इसी तरह चेहरे पर रहने दे | 15 मिनट के पश्चात चेहरे को ठंडे पानी से धो लें | सप्ताह में कम से कम 2 बार यह प्रयोग करने से आपके चेहरे की त्वचा कोमल और चमकदार हो जाएगी और साथ ही साथ आपके चेहरे से झाइयां और कील मुंहासे भी दूर हो जाएंगे |

तैलीय त्वचा के लिए पुदीने के फायदे-

तैलीय त्वचा के लिए पुदीने के रस को मुल्तानी मिट्टी के साथ मिलाकर लेप बना ले और इस लेप को चेहरे पर लगाने से आपकी ऑयली त्वचा सही हो जाएगी और चेहरे से झुर्रियां भी कम हो जाएगी | इसके अलावा इस लेप को लगाने से आपके चेहरे की चमक भी बढ़ जाएगी और चेहरे के दाग धब्बे और झाइयां भी बिल्कुल साफ हो जाएगी |

           इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको पुदीना के औषधीय गुण और फ़ायदे के बारे में पूरी जानकारी दे दी है | यह हानिरहित उपाय है जिसके इस्तेमाल से आप घर बैठे आसानी से उपचार कर सकते हैं ऐसे नुस्खे और उपचार आपको और कहीं नहीं मिलेंगे |

           दोस्तों आपके द्वारा किया गया एक SHARE भी किसी के लिए अमृत के समान हो सकता है इसलिए यहां दिए गए SHARING Button पर क्लिक करके Facebook, Whatsup, Google plus, Twitter सभी जगह पर इस लेख को शेयर करें | हमारी मदद करें स्वदेशी व प्राचीन नुस्खों को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए |

धन्यवाद,

इसे भी पढ़ें:-

चेहरे का सौंदर्य बढ़ाने के आयुर्वेदिक नुस्खे व घरेलू उपाय,Home Remedies to Enhance Facial Beauty

आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के आसान घरेलू उपाय, Remedies for Dark Circles

चेहरे के अनचाहे बालों को हटाने का असरदार तरीका,Effective way to remove unwanted hair from face

चेहरे की झुर्रियों के कारण और उनको हटाने के आयुर्वेदिक नुस्खे और घरेलू उपाय

5 दिनों में बालों का गिरना और टूटना रोके आसान घरेलू उपाय से, Hair fall Solution

धूप में शरीर और चेहरे की त्वचा की देखभाल कैसे करें,How to care body and face skin in the sun.

यदि आपके बाल भी समय से पहले सफेद हो रहे हैं तो अपनाएं ये आसान तरीके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *