November 13, 2018

कमजोर और दुबले -पतले बच्चो को इन आहार के जरिये करे मोटा

कमजोर और दुबले -पतले बच्चो को इन आहार के जरिये करे मोटा

 कमजोर को दुबले पतले बच्चों को मोटा करने के घरेलू उपाय:-दुनिया के हर माता-पिता यही चाहते हैं कि उनके बच्चे का वजन एकदम सही हो| बच्चे को लेकर माता-पिता हमेशा ही परेशान रहते हैं, वे सोचते हैं की ऐसा क्या किया जाएँ जिससे ही उनके बच्चे हमेशा तंदरुस्त रहे| ऐसे में पेरेंट्स बच्चों को क्या खिलाएं जिससे उनका वज़न बढ़े। लेकिन सबसे पहले पेरेंट्स को ये जानना बेहद जरूरी है कि छोटे बच्चों के लिए सम्पूर्ण पोषण बेहद आवशयक है। जिसमें फैट ,प्रोटीन ,विटामिन आदि की सही मात्रा होनी चाहिए।बच्चे को मोटा करने व् उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए कुछ जरुरी बाते होती हैं, जैसे की बच्चे को ऐसा भोजन दिया जाये जिससे उसे सभी पोषक तत्व मिले| और उसके शरीर में किसी तरह की कमी न हो, और एक जरुरी बात बच्चे का वजन केवल खाने से ही नहीं बढ़ता हैं| बल्कि बच्चा यदि व्यायाम करे, भाग-दौड़ करे तो भी उसके शरीर के उत्तक फैलते हैं| जो उसकी ग्रोथ में उसकी मदद करते हैं| यहाँ हम आपको कमजोर शिशुओं व बच्चों को दिया जाने वाला आहार के बारे में बता रहें हैं जिससे बच्चे का वज़न बढ़ाने में आसानी हो|

इसे भी पढ़ें:-छोटे बच्चों की मालिश कैसे करें, How to massage a new born baby

अण्डा एवं आलू

       कमजोर और दुबले पतले बच्चों के लिए आलू और अंडा खाना अति आवश्यक है आलू में कार्बोहाइड्रेट होता है तो अंडा प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत माना गया है| अंडा और आलू उबालकर खिलाने से बच्चों का वजन बढ़ता है और वह स्वस्थ रहते हैं |

हरी पत्‍तेदार सब्‍जियां

       हरी सब्‍जियों में कई तरह के पोषण, प्रोटीन, मिनरल्स आदि पाए जाते हैं जिससे बच्‍चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और उनके शरीर का पूर्ण विकास होता है| और जो बच्चो को रोगों से लड़ने के लिए भी ऊर्जा प्रदान करते हैं| और वह स्वस्थ रहते हैं| इसके अलावा हरी सब्‍जियों को खाने से  दिमाग तेज होता है,और बच्‍चों की आंखों की रौशनी भी बढती हैं| साथ ही उनके शरीर में कभी भी पोषक तत्वो की कमी नहीं आती हैं| जिससे बच्चा हमेशा बढ़ता ही जाता हैं| छोटे बच्चो को आप इनका सूप बनाकर भी दे सकती हैं|

सूखा मेवा

       कमजोरऔर दुबले पतले बच्चों का वजन बढ़ाने में सूखा मेवा बहुत ही आवश्यक है। बाजार में सभी प्रकार के ड्राई फ्रूट्स आसानी से उपलब्ध हो जाते हैंआप ड्रायफ्रूट का पाउडर बनाकर बच्चों को दूध में मिलाकर दे सकते हैं या रात में भिगोकर सुबह खाली पेट खिलाएंगे तो भी लाभ मिलेगा|  ड्राई फ्रूट्स और खासकर नट्स विटामिन से भरपूर होते हैं|

मलाई युक्त दूध

       कमज़ोर बच्चों के वजन को बढ़ाने के लिए बाज़ार में उपलब्ध फुल क्रीम मिल्क बहुत ही उपयोगी है| क्रीम युक्त दूध बच्चों का वजन बढ़ाने में मदद करता है। अगर बच्चा दूध पीने के लिए मना करे तो शेक ,स्मूदी या चॉकलेट पाउडर मिक्स करके बच्चे को पिलायें। मलाई वाला दूध बच्चे का  वजन बढ़ाने के लिये सही माना जाता है।

दालें

       जिन बच्चों का वजन सही अनुपात में ना बढ़ रहा हो उनके लिए दाल का पानी एक बेहतर स्त्रोत है |दाल में प्रोटीन बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है से बच्चों का वजन बहुत तेजी से बढ़ता है |

इसे भी पढ़ें:बच्चो को होने वाली आम बीमारिया और उनके इलाज

घी या मक्खन

       दुबले पतले बच्चों को घी का सेवन नियमित रूप से कराने से उनका वजन बहुत ही जल्दी बढ़ता है|

आप बच्चों को घी रोटी में लगाकर, घी का पराठा बना कर और दलिया और चावल में डाल कर खिला सकती हैं |

दूध और केला

       केला एनर्जी  का एक बेहतर स्रोत माना जाता है आप कमजोर बच्चे को दूध और केला मिक्स कर  उसका शेक बनाकर दे सकते हैं|

मीट और मछली

       अगर आप नॉन वेजिटेरियन हैं तो आप अपने बच्चे के वजन को बढ़ाने के लिए मीट और मछली का उपयोग भी कर सकती हैं |

सूप

       दुबले पतले बच्चों को मोटा करने के लिए आप उन्हें दाल और सब्जियों का सूप बनाकर दें | सूप का नियमित सेवन करने से बच्चों में किसी भी तरह के पोषक तत्वों की कमी नहीं रहती है |

बच्चों को बाहर का खाना ना दें

       इस बात का विशेष रुप से ध्यान रखें कि आप  अपने बच्चे को बाहर का खाना ना के बराबर दे| बाहर का खाना ज्यादा खाने से बच्चों में पेट के विकार हो जाते हैं जिससे उनके शरीर की सही ग्रोथ नहीं होती है|

इसे भी पढ़ें:0 से 12 माह तक कैसा होना चाहिए आपके शिशु का डाइट प्लान

          दोस्तों आपके द्वारा किया गया एक SHARE भी किसी के लिए अमृत के समान हो सकता है इसलिए यहां दिए गए SHARING Button पर क्लिक करके Facebook, Whatsup, Google plus, Twitter सभी जगह पर इस लेख को शेयर करें | हमारी मदद करें स्वदेशी व प्राचीन नुस्खों को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए |

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *